बलात्कार के बेबस रंगों को उकेरता एमा क्रेंजर का पावरफुल आर्ट पीस

बलात्कार के बेबस रंगों को उकेरता एमा क्रेंजर का पावरफुल आर्ट पीस

हाल ही में, ट्विटर पर एमा क्रेंजर नाम की एक लड़की ने अपनी बनाई एक पेंटिग की तस्वीर साझा की| मात्र उन्नीस साल की एमा ने अपने कॉलेज प्रोजेक्ट के लिए यह पेंटिंग बनाई थी|
‘बाहर रहकर लड़कियां पढ़ाई नहीं अय्यासी करती है’ | Feminism in India

‘बाहर रहकर लड़कियां पढ़ाई नहीं अय्यासी करती है’

ये कुछ ऐसी बातें हैं जो अक्सर समाज व नाते-रिश्तेदार, उन माता-पिता से करते पाए जाते हैं जो अपने बेटे-बेटी में बिना फर्क किए, बेटियों को आगे बढ़ने और पढ़ाई करने के लिए अपने घर से दूर भेजते हैं।
भारत में स्त्री विमर्श और स्त्री संघर्ष: इतिहास के झरोखे से

भारत में स्त्री विमर्श और स्त्री संघर्ष: इतिहास के झरोखे से

भारत में स्त्री संघर्ष और स्त्री अधिकार के आन्दोलन को इसी रूप में स्वतंत्रता आन्दोलन के परिप्रेक्ष्य में देखने की आवश्यकता है|
आधी दुनिया के चश्मे से कंट्रोल Z: यानी तुम लौट आओ

आधी दुनिया के चश्मे से ‘कंट्रोल Z’: यानी तुम लौट आओ

‘कंट्रोल Z’ का अर्थ ही यही है कि इतिहास के अंधेरे में गुम हो गर्इं शख्सियतों को हम फिर से लौटा लाएं अपनी नई पीढ़ी के लिए
अब बेशकीमती है तुम्हारी अमृता शेरगिल

अब बेशकीमती है ‘तुम्हारी अमृता शेरगिल’

अमृता शेरगिल अपनी वास्तविक जिंदगी में और अपने आर्ट में भी समकालीन कलाकरों से बहुत आगे थीं। वह परफेक्शनिस्ट नहीं थी, शायद इसीलिए उनकी सोच का दायरा असीमित था।
‘बेटी की इज्ज़त और सुंदरता के मानक’ वाली विनय कटियार की पॉलिटिक्स

‘बेटी की इज्ज़त और सुंदरता के मानक’ वाली विनय कटियार की पॉलिटिक्स

"उनसे ज्यादा बहुत सी सुंदर महिलाएं है, स्टार कैपेंनर हैं| हिरोइन और आर्टिस्ट हैं जो उनसे बेहतर हैं| बीजेपी में खूबसूरत महिलाओं की कमी नहीं हैं, जहां खड़ा कर देंगे, उनसे ज्यादा वोट ला सकती हैं|" – ये बयान हैं सांसद विनय कटियार का, जो उन्होंने अपने एक इंटरव्यू में दिया|
आज़ादी की लड़ाई में आधी दुनिया: 8 महिला स्वतंत्रता सेनानी | Feminism in India

आज़ादी की लड़ाई में आधी दुनिया: 8 महिला स्वतंत्रता सेनानी

आज़ादी की लड़ाई में कंधे से कंधा मिला कर जिन गुमनाम महिला स्वतंत्रता सेनानी ने सहयोग और समर्थन दिया, उनका तो कहीं जिक्र नहीं मिलता।
#IWillGoOut : स्वतंत्र इंसान की तरह एकदम बेबाक

#IWillGoOut: स्वतंत्र इंसान की तरह एकदम बेबाक

सरहदों से परे विश्व्यापी स्तर पर #IWillGoOut आन्दोलन में करोड़ों महिलाओं ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया| इस आन्दोलन से उत्तर प्रदेश भी अछूता नहीं रहा और महिलाओं ने बीते शनिवार (21 जनवरी 2017) को शाम पांच बजे से लखनऊ के गोमतीनगर में एकजुट होकर अपने विरुद्ध होने वाली हिंसा के खिलाफ़ अपना विरोध प्रकट किया|
बिच

मेरे सशक्त रूप को तुम ये गाली देते हो तो ‘मुझे कबूल है’- टू...

आजकल लड़कियों के संदर्भ में कथित कुलीन लोगों में एक गाली- बिच और अपने देसी समाज में कुतिया के इस्तेमाल का चलन तेजी से बढ़ा है।
स्वतंत्र औरत की पहचान: बस इतना-सा ख्वाब है!

‘स्वतंत्र औरत’ की पहचान: बस इतना-सा ख्वाब है!

यह मामला है इस बात की सामाजिक स्वीकृति और गारंटी का कि मानव-जाति का जो हिस्सा आधी दुनिया कहलाता है, उसे स्वतंत्र पहचान और भूमिका के साथ औरत होकर जीने का हक है।

What's Trending On FII?

To Kill a Mockingbird

Gender Roles And Stereotyping In ‘To Kill A Mockingbird’

To Kill a Mockingbird covers several themes that are often uncomfortable to encounter and explore, such as racism and loss of innocence.
Here's Why 'Zindagi Gulzar Hai' Is Not A Feminist Show

Here’s Why ‘Zindagi Gulzar Hai’ Is Not A Feminist Show

Ladies and gentlemen, this is the women empowering serial- "Zindagi Gulzar hai"- a guide to middle class girls on how to achieve social mobility by remaining virginal and thus, marrying burger guys who can claim to deserve them after "being boys for most of their life".
पैड खरीदने में माँ को आज भी शर्म आती है

पैड खरीदने में माँ को आज भी शर्म आती है

मासिकधर्म और सैनिटरी पैड पर हमारे घरों में चर्चा करने की बेहद ज़रूरत है और जिसकी शुरुआत हम महिलाओं को ही करनी होगी।