मानव अधिकारों के रूप में 'यौन अधिकार'

मानव अधिकारों के रूप में ‘यौन अधिकार’

नौ नियमों ने यौन अधिकारों और यौन स्वास्थ्य के समर्थक अन्तर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय मानव अधिकार कानून के मौजूदा निकाय के विकास में विशेष भूमिका निभाई है|
#MeToo से भारतीय महिलाएं तोड़ रही हैं यौन-उत्पीड़न पर अपनी चुप्पी

#MeToo से भारतीय महिलाएं तोड़ रही हैं यौन-उत्पीड़न पर अपनी चुप्पी

पत्रकारिता से जुड़ी बहुत सी महिलाओं ने अपने साथ कार्यक्षेत्र में हुए यौन दुर्व्यवहार के बारे में #MeToo अभियान के तहत सोशल मीडिया में खुलकर लिखना शुरू किया है|
‘ऋषि पंचमी व्रत’ - पीरियड को पाप मानकर शुद्ध होने का संकीर्ण रिवाज

‘ऋषि पंचमी व्रत’ – पीरियड को पाप मानकर शुद्ध होने का संकीर्ण रिवाज

ऋषि पंचमी व्रत महिलाओं के पीरियड के दौरान मन्दिर या रसोई जैसे अन्य निषेधों जैसे पापों को दूर करने के लिए किया जाता है|

खबर अच्छी है : सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश का फ़ैसला और पितृसत्ता...

सबरीमाला मन्दिर में महिलाओं के प्रवेश पर सदियों से लगे प्रतिबन्ध को सुप्रीम कोर्ट की 5 सदस्यीय संवैधानिक पीठ ने 4:1 के बहुमत से हटाने के हक में फैसला सुनाया|
इन छह उपायों से सुरक्षित होगा गर्भ समापन

इन छह उपायों से सुरक्षित होगा गर्भ समापन

असुरक्षित गर्भ समापन प्रक्रियाओं, बाधक गर्भ समापन कानून और गर्भ समापन के कारण ऊंची मृत्यु और अस्वस्थता दरें यह सभी एक दूसरे को बढ़ावा देते हैं| आइये जानते है कि किन छह प्रमुख उपायों से गर्भ समापन को सुरक्षित किया जा सकता है|
बीएचयू में फिर दोहराया सड़े पितृसत्तात्मक प्रशासन का इतिहास

बीएचयू में फिर दोहराया सड़े पितृसत्तात्मक प्रशासन का इतिहास

बीते रविवार को जब बीएचयू के छात्र-छात्राओं ने सालभर पहले हुए आन्दोलन की याद में जब प्रतिरोध कार्यक्रम का आयोजन किया था तो एकबार फिर विश्वविद्यालय प्रशासन का चेहरा सामने आया|
भारत में सुरक्षित गर्भ समापन करवाना आज भी एक चुनौती है

भारत में सुरक्षित गर्भ समापन करवाना आज भी एक चुनौती है

भारत में सुरक्षित गर्भ समापन आज भी एक बड़ी चुनौती है| गौरतलब है कि ये कोई वक्तव्य की बजाय हमारे समाज की कड़वी सच्चाई है जो सीधेतौर पर पितृसत्ता की महिला विरोधी संस्कृति का हिस्सा है और इसे बदलना बेहद ज़रूरी है|
महिला-अधिकार का अहम हिस्सा है गर्भ समापन

महिला-अधिकार का अहम हिस्सा है गर्भ समापन

गर्भ समापन महिलाओं के यौनिक-प्रजनन स्वास्थ्य और अधिकार का एक अभिन्न अंग है| ये महिलाओं के अपने शरीर पर नियन्त्रण और खुद के लिए निर्णय लेने की क्षमता है|
पति-पिता के नाम से क्या तय होता है महिला के इलाज का व्यवहार?

पति-पिता के नाम से क्या तय होता है महिला के इलाज़ का व्यवहार?

चिकित्सा के बड़े बाज़ार में सही इलाज़ की खोज अपने आप में बड़ी चुनौती है| क्योंकि कुकुरमुत्ते जैसे पनपते बड़े-बड़े अस्पतालों के वीभत्स किस्से आये दिन देखने सुनने को मिलते है, जो सहज मिलने वाली स्वास्थ्य सेवाओं को एक चुनौती बना देता है|
सिविल सोसाइटी की बंद आँखों का नतीजा है मुजफ्फरपुर की घटना 

सिविल सोसाइटी की बंद आँखों का नतीजा है मुजफ्फरपुर की घटना 

आज हम दायरे में सिमटे रहते हैं और खासकर दलित पिछड़ी जातियों, वंचित वर्ग और गरीबों के साथ में कुछ ऐसा होता है तो ये उनकी संवेदनाओं को झकझोरता नहीं है, जिसका नतीजा होती है मुजफ्फरपुर जैसी घटनाएँ|

What's Trending On FII?

Can Today's Hook Up Culture Harm Women More Than Men?

Can Today’s Hook Up Culture Harm Women More Than Men?

Though still stigmatised, hook up culture is steadily becoming a norm among millennials and university students, especially given the high incidence of dating apps like Tinder and Bumble.
These Are The 15 Women Who Helped Draft The Indian Constitution/इन 15 महिलाओं ने भारतीय संविधान बनाने में दिया था अपना योगदान

These Are The 15 Women Who Helped Draft The Indian Constitution

On this Republic Day, let us take a look at the fifteen powerful women who helped draft the Indian Constitution.
Kamala Khan A.K.A Ms. Marvel—A Step Towards An Inclusive Comic World?

Kamala Khan A.K.A Ms. Marvel—A Step Towards An Inclusive Comic World?

our first glimpse of Kamala Khan, or Ms. Marvel, as she is known in the Marvel Universe, not just as an ancillary character – but one who is the main binding force in the story playing the central role.