Gender

In this section, find articles, video, images and artwork on gender, gender stereotypes and discrimination, gender fluidity and gender diversity.

Pinjar: The ‘Other’ Side of the India-Pakistan Partition

Pinjar Review: The ‘Other’ Side of the India-Pakistan Partition

Pinjar brings out the struggles faced by women during the Partition without demonizing or valorizing either of the sides.
6 Times Desi Women Reclaimed Public Spaces As Their Own

6 Times Desi Women Reclaimed Public Spaces As Their Own

Normalising the idea that women too can loiter allows us to reclaim public spaces and also assert our identities as part of the society.
Kaala And Its Triumphant Subversions Of Caste And Gender Roles

Kaala And Its Triumphant Subversions Of Caste And Gender Roles

Kaala highlights the role of politics in the victimisation of Dalits and their struggles to attain their rights of selfhood and dignity.
Complying With Dowry Demands Shattered Belief In My Family's Progressiveness

Complying With Dowry Demands Shattered My Belief In My Family’s Progressiveness

The educated middle class makes sure that it follows the custom of dowry religiously but to never label the process as such.
महिलाओं पर बाज़ार की दोहरी मार

महिलाओं पर बाज़ार की दोहरी मार

स्त्री के लिए यह जानना बहुत जरुरी है कि देह पर अधिकार और मस्तिष्क पर अपने नियंत्रण के बिना वह बाज़ार के नियमों को अपने अनुकूल नहीं ढाल सकती|
अधिकारों की अंधी दौड़ में किशोरावस्था के भयानक परिणाम | Feminism In India

अधिकारों की अंधी दौड़ में किशोरावस्था के भयानक परिणाम

बेहद ज़रूरी है कि हम एकबार फिर आज़ादी, अधिकार और सशक्तिकरण के अपने मानकों पर गौर करें, खासकर तब जब हम ग्रामीण परिवेश में बात करते हैं|
लड़कियों के संघर्ष पर हावी पितृसत्ता की अधीनता | Feminism In India

लड़कियों के संघर्ष पर हावी पितृसत्ता की अधीनता

हमारे समाज में यह मान्यता है कि महिलाओं के आर्थिक सहयोग से घर नहीं चलते| बल्कि घर तो मर्द की कमाई से ही चलते हैं। इसी सोच को लेकर उसका पति उसके ऊपर नौकरी छोड़ने का दवाब बनाने लगा।
कैसे गढ़ी जाती है औरतें? | Feminism In India

कैसे गढ़ी जाती है औरतें?

क़ानूनी किताबो में मिले है सामाजिक रूप से मिलने का संघर्ष तो अब भी जारी है क्या इस तरह के बड़े बड़े नामी गिरामी मंच उन थोड़ी पैदा हुई सामाजिक संभावनाओं को ख़त्म नहीं कर देंगे?
फैमिली ग्रुप्स के अश्लील व्हाट्सएप्प मेसेज – एक विश्लेषण | Feminism In India

फैमिली ग्रुप्स के अश्लील व्हाट्सएप्प मेसेज – एक विश्लेषण

आजकल फैमिली ग्रुप में अपने बड़े-बूढ़े और रिश्तेदारों की तरफ से शेयर किये जाने वाले कुछ उन चुनिन्दा भद्दे व्हाट्सएप्प मेसेज के बारे बात करने जा रही हूँ, जो महिलाओं के प्रति व उनसे बनाये जाने वाले रिश्ते के प्रति की अपनी घिनौनी सोच को साझा करते हैं|
महिला उत्पीड़न की पहली जगह है घर | Feminism In India

महिला उत्पीड़न की पहली जगह है घर

हम बेटा पैदा होने पर तो नहीं बोलते की ‘देवता आया है’ तो बेटी को दिव्य क्यों बनाते हैं?  क्या इसलिए ताकि हम उसे हमेशा देवी के ढोंग के तले उसे उसके मानव अधिकारों से वंचित रखें?

What's Trending On FII?