Home History Page 21

History

In this section, find articles, essays, listicles on Indian feminist icons and history of the feminist movement in India and South Asia.

Life of Amrita Sher-Gil: An Artist Way Ahead Of Her Timevideo

Watch: The Life And Times Of Amrita Sher-Gil

Amrita Sher-Gil is one of India's foremost painters, often called India's Frida Kahlo. On the 103rd anniversary of her birth, we celebrate this exceptional woman.
Life of Amrita Sher-Gil: An Artist Way Ahead Of Her Time

Life of Amrita Sher-Gil: An Artist Way Ahead Of Her Time | #IndianWomenInHistory

Amrita Sher-Gil's rare ability of depicting liveliness in the complex realities of her paintings, she portrayed the ideas of human bonds like no other artist of her time.
अब बेशकीमती है तुम्हारी अमृता शेरगिल

अब बेशकीमती है ‘तुम्हारी अमृता शेरगिल’

अमृता शेरगिल अपनी वास्तविक जिंदगी में और अपने आर्ट में भी समकालीन कलाकरों से बहुत आगे थीं। वह परफेक्शनिस्ट नहीं थी, शायद इसीलिए उनकी सोच का दायरा असीमित था।
आज़ादी की लड़ाई में आधी दुनिया: 8 महिला स्वतंत्रता सेनानी | Feminism in India

आज़ादी की लड़ाई में आधी दुनिया: 8 महिला स्वतंत्रता सेनानी

आज़ादी की लड़ाई में कंधे से कंधा मिला कर जिन गुमनाम महिला स्वतंत्रता सेनानी ने सहयोग और समर्थन दिया, उनका तो कहीं जिक्र नहीं मिलता।
Playing With Fire: Remembering Qurratulain Hyder

Playing With Fire: Remembering Qurratulain Hyder | #IndianWomenInHistory

“I don’t have a great mission in life and I never thought it was necessary for a writer to have one." – Qurratulain Hyder
सावित्रीबाई फुले: ज़माने को बदला अपने विचारों से

सावित्रीबाई फुले: ज़माने को बदला अपने विचारों से

ज्योतिबा और सावित्रीबाई ने दलितों को शिक्षा में हिस्सेदार बनाया। दलित लड़कियों के लिए ज्योतिबा ने स्कूल खोला। इसमें टीचर बनीं सावित्रीबाई। 1848 से 1851 तक ऐसे 18 स्कूल खोले गए।
Jhalkari Bai: The Indian Rebellion of 1857 and Forgotten Dalit History

Jhalkari Bai: The Indian Rebellion Of 1857 And Forgotten Dalit History | #IndianWomenInHistory

The story of Jhalkari Bai as a Dalit Virangana tells us why looking at the representations of Dalit women in the history of 1857 is crucial.
एक थी अमृता प्रीतम: पंजाबी की पहली लेखिका | #IndianWomenInHistory

एक थी अमृता प्रीतम: पंजाबी की पहली लेखिका

अमृता प्रीतम के लेखन में नारीवाद और मानवतावाद दो मुख्य विषय रहे है, जिसके जरिए उन्होंने समाज को यथार्थ से रू-ब-रू करवाने का सार्थक प्रयास किया।
मंटो की वो अश्लील औरतें

मंटो की वो अश्लील औरतें

ऐसे ही झंझावतों वाले दौर में हिंदुस्तानी साहित्य में एक ऐसे सितारे का उदय हुआ, जिसने अपनी कहानियों से अपने समय और समाज को नंगा सच दिखाया। इस लेखक का नाम था- सआदत हसन मंटो।
इस्मत चुगताई का सेक्सी ‘लिहाफ’

इस्मत चुगताई का सेक्सी ‘लिहाफ’

इस्मत चुगताई उर्फ ‘उर्दू अफसाने की फर्स्ट लेडी’ ने महिला सशक्तीकरण की सालों पहले एक ऐसी बड़ी लकीर खींच दी, जो आज भी अपनी जगह कायम है।

What's Trending On FII?

“Not Same-sex Sexuality But Modern Homophobia Is The Western Import”: Ruth Vanita

“Not Same-sex Sexuality But Modern Homophobia Is The Western Import”: Ruth Vanita

Ruth Vanita's books broke fresh ground in gender studies by showing that India has a long tradition of same-sex desire.
internalized misogyny

A 101 Introduction To Internalized Misogyny

Unless you’ve been living under a rock, you must have heard the phrase ‘I am not like other girls’ or 'I am not like most girls' somewhere.
How Sexism & Misogyny In Indian Comedy Encourages Gender-based Violence

How Sexism & Misogyny In Indian Comedy Encourages Gender-based Violence

Does Indian comedy has to be sexist and misogynist in order to be funny?